हिन्दी English



" औरंगजेव हमारा हीरो है ।''  ........''मौलाना अंसार रजा ''

भारत के इतिहास में अनेक प्रसिद्ध सम्राट हुये ,जिनमें चन्द्र
गुप्त मौर्य , अशोक महान् , विक्रमादित्य आदि विशेष रूप से उल्लेखनीय हैं । मौलाना के अनुसारऔरंगजेव भारत के मुस्लिमों
का हीरो क्यों है ? इसके मुख्यरूप से दो कारण हैं । एक तो वे भारत को अपना देश नहीं मानते । अर्थात् मुसलमान बनने के पूर्व
पूर्वजों ( भारतीय हिंदुओं ) को अपना पूर्वज नहीं मानते । दूसरा कारण यह है कि जिस मुस्लिम शासक ने जितना अधिक हिंदुओं
पर अत्याचार किये ,जिसने सर्वाधिक देवालयों को ढहाया ,भारत और भारतीयता को जितना अधिक विरूप किया वह उतना ही उनका अधिक प्रिय और महान् नायक अथवा हीरो है ।
औरंगजेव भारत के इतिहास का सबसे अधिक क्रूर शासक
रहा है । उसने लाखों हिंदुओं को इस्लाम न स्वीकार करने पर क़त्ल करवा दिया । लगभग एक करोड़ हिंदुओं को सत्ता की
तलवार से मुसलमान बनने के लिए मजबूर कर दिया । हजारों भव्य मन्दिरों को भूलुंठित कर दिया अथवा मंदिरों को ही मस्जिदों
में बदल दिया । काशी की "ज्ञानवापी मस्जिद " ,जोकि काशी विश्व नाथ मन्दिर को विरूप करके उसके द्वारा निर्मित कराई गई,
इसका ज्वलन्त और जीवन्त उदाहरण वर्तमान है । उसनेँ अपने बड़े भाई दारा शिकोह सहित सभी भाईयों की निर्मम हत्या कर दी । अपने पिता बादशाह शाहजहाँ को कैद करके जेल में डाल दिया और स्वयं बलात् सत्तारूढ़ हो गया ।
अर्थात् औरंगजेव अनैतिकता ,क्रूरता , अधर्म ,हिंदुओं पर अमानुषिक अत्याचार करने के लिए सर्वाधिक कुख्यात रहा है ।
इसीलिये 'मौलाना अंसार रजा ' के अनुसार औरंगजेव मुस्लिमों
का "हीरो'' ( सर्वाधिक श्रद्धेय प्रिय नायक )" है । मुलायम सिंह
यादव के वक्तव्य से इसी तथ्य की पुष्टि होती है कि "मुसलमानों का
विश्वास प्राप्तकरने के लिये हिंदुओं पर गोलीचलवाना जरूरी था ।" निष्कर्ष यह कि मुसलमान उसी को अपना नेता अथव हीरो स्वीकार करता है जो हिंदुओ का सांस्कृतिक और भौतिक स्तर पर विनाश करने में आगे हो ,जो केवल और केवल मुसलमानों की विदेशी अरबी संस्कृति का विस्तार और जनसंख्या बढ़ाने में सहयोग करे फिलहाल इस कसौटी पर "मुलायम और अखिलेश ही उनकी दृष्टि में खरे "उतरते दिख रहे हैं । प्रधानमंत्री के "सबका साथ ,सबका विकास "के नारे से चिढ़ है
आज की पोस्ट 'मौलाना अंसार रजा' के उक्त वक्तव्य की
प्रतिक्रिया में प्रस्तुत है .....

"हीरो ' मुस्लिम जनों का , औरँगजेव महान् ।
मौलाना हैं कह रहे , उस पर इन्हें गुमान ।।
उस इन्हें गुमान , हिंदुओं का हत्यारा ।
किया बाप को कैद , भाइयों को भी मारा ।।
मन्दिर तीन हज़ार , कर दिए जिसने 'ज़ीरो' ।
भारत किया ' विरूप ', वही इनका है हीरो ।।"


विशेष .......
'हीरो '... श्रद्धेय ,सर्वाधिक लोकप्रिय नायक ।
'ज़ीरो '.... अस्तित्व हीन , भूलुंठित , जमीदोज ।
'विरूप' .... भारत की सनातन संस्कृति को नष्ट करके एक
विदेशी अरबी संस्कृति को स्थापित करने का प्रयास
किया ,जिससे भारत का मूल स्वरूप विकृत हो गया ।
और वह विकृति समय के साथ तीव्र गति से बढ़ रही है

टिप्पणी

क्रमबद्ध करें

© C2016 - 2020 सर्वाधिकार सुरक्षित Website Security Test