हिन्दी English

आज भी इस्लाम का गजनी सोमनाथ की गाय को ही आगे करता है ।


यह विडियो सब ने देखा ही होगा । ट्रम्प के प्रेसिडेंट होते ही वाशिंगटन डीसी में इस्लामिक सेंटर के बाहर इस्लाम की ज़ोर शोर से पोलखोल करता एक ईसाई है और खुलकर बोल रहा है । सीधा कह रहा है कि सब जगह बढ़ी हुई सेक्यूरिटी तुम लोगों के ही मजहब के कारण है । हिंदुओं से कोई समस्या होती नहीं, बौद्धों से नहीं, तुम्हारा मजहब ही फसाद की जड़ है ।



अब आप पूछेंगे यहाँ सोमनाथ की गाय कहाँ से आई ? तो ध्यान दीजिये, उस ईसाई से लड़ने के लिए एक फिरंगी महिला आती है जो कि इस्लामिस्ट है । महिला ईसाई के हाथ से माइक छीनने की कोशिश करती है वो उसे दूर धकेलता है तो उसे डांटती है कि मुझे छूना नहीं । वह ईसाई भी उसे कहता है कि तुम भी मुझे छूने की कोशिश मत करना।

इस्लाम का गजनी और सोमनाथ की गाय यही हैं । देखिये, उस महिला के साथ दो और लोग हैं जो शायद फिरंगी नहीं है, कमेरा के फ्रेम में नहीं आ रहे, सामने नहीं आ रहे हैं लेकिन दरवाजे की आड़ में खड़े हो कर इस ईसाई को महिलाओं का सम्मान करने को कहते हैं ।

शत्रु के ही लोगों का उसके खिलाफ इस्तेमाल करना यह इस्लाम का इतिहास और परंपरा है तो अगर ऐसी बातें चरित्र में ही न हों तो नहीं आती । कुरान पढ़िये, इस्लाम की सच्चाई समझिए ।

टिप्पणी

क्रमबद्ध करें

© C2016 - 2020 सर्वाधिकार सुरक्षित Website Security Test