हिन्दी English


अमता बेगम जिन्ना की राह पर ,वंगाल को भारत से अलग करने की पूरी साजिश ,सभी सेकुलर गद्दारों का समर्थन
.....................................................................

"अमता बेगम के राज "में 'धनमोहन ' जी की केन्द्रीय सरकार के
सहयोग और संरक्षण में 'चिट फण्ड 'और 'रोजवैली 'आदि अनेक घोटालों में अमता बेगम ने अपने लुटेरे गैंग के साथ 25 लाख करोड़ की लूट की है ,जिसमेँ अभी तक अमता दी के घनिष्ठ मंत्री ,विधायक , सांसद जाँच एजेंसियों द्वारा कैद किय जा चुके हैं । जाँच का फन्दा अमता के गले तक पहुँच रहा है ।
नोटबंदी से सबसे ज्यादा जाली और काली मुद्रा वंगाल में ही पकड़ी जा रही है । उसमे भी मैडम का सबसे ज्यादा काला धन
फंसा हुआ है । अतएव सबसे तीव्र विरोध अमता बेगम द्वारा मोदी सरकार का किया जा रहा है ।
अमता के गत शासनकाल में upa की धनमोहन सरकार के संरक्षण और सहयोग से लगभग 10 लाख मुस्लिम घुसपैठिये वंगला देश और पाकिस्तान से लाकर हिंदुओं को उजाड़ कर बसाये जा चुके हैं ।
गत 7 दशक में पाकिस्तान और वांगल देश से मुस्लिम घुसपैठियों को लाकर हिंदुओं केजर जोरू जमीन की कीमत पर
बसाया जा चुका है । वंगाल में भारत विभाजन के समय मुस्लिमों की आबादी का अनुपात मात्र 10 % अवशेष वर्तमान वंगाल में शेष रह गया था ,जोकि आज पाकिस्तान और वंगला देश से निरन्तर हो रही घुसपैठ से मुस्लिम आबादी 35 %हो गई है और हिन्दू घटकर मात्र 65% रह गए हैं ।
पूरे पश्चिमी वंगाल में अमता बेगम के नेतृत्व में अघोषित रूप में शरीयत लागू की जा चुकी है । मुल्ला मस्जिदों से सीधे फ़तवे जारी कर रहे हैं और जिहादी आतंकी उन फ़तवों को क्रियान्वित
कर ते हैं । पूरे राज्य में मंदिरों में घंटा घड़ियाल ,शंख बजना बंद कराया जा चुका है । हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं का क्रूरता पूर्वक दमन किया जा रहा है ।कुछ के तो हाथ काट कर हमेशा के लिए विकलांग किया जा चुका । ज़िहादी गुंडों के खिलाफ किसी भी थाने में एफ आई आर नहीं लिखी जाती है ।
चुनावों की स्थिति अत्यधिक बुरी है ।अधिकांश गाँवों में चुनाव के पूर्व TMC के पक्ष में फरमान जारी कर दिया जाता है जिस गाँव में TMC हार जाती है ।चुनाव के बाद उस गाँव के नागरिकों
की हिन्दू आबादी को उजाड़ दिया जाता है और वहाँ मुस्लिम घुसपैठियों को बसा दिया जाता है । TMC को मिलने वाले वोटों में 80% वोट एक प्रकार से साइलेंट बूथ कैपचरिंग का होता है ।
ममता ने अघोषित रूप से विधिवत् इस्लाम स्वीकार किया हुआ है। इस्लामी आतंकवाद के वल पर जिन्ना की शैली में सीधी कार्यवाही "डायरेक्ट एक्शन " द्वारा वंगाल को भारत से अलग करके स्वतंत्र इस्लामी देश की प्रधानमंत्री बनने का साजिश रची हुयी है । इसी योजना के तहत केंद्र सरकार की वैध उपस्थिति का खुला विरोध प्रारम्भ कर दिया है । इस साजिश के पीछे पाकिस्तान और चीन की संयुक्त शक्ति लगी हुई है और मोदी के असामान्य तीव्र विरोध के पीछे यही साजिश काम कर रही है।
राज्यसभा में बीजेपी सरकार का बहुमत न होने से राष्ट्रपति शासन नहीं लगाया जा सकता है । अतएव इस सांविधानिक मज़बूरी के चलते कांग्रेस सहित सभी सेकुलर दलों का सक्रिय समर्थन प्राप्त होने से आज वंगाल कश्मीर की राह पर बहुत आगे बढ़ चुका है ।
अमता बेगम के राज में लगभग एक लाख हिन्दू लड़कियों का अपहरण करके उन्हें मुसलमान बनाया जा चुका है ।शेष देश के सेकुलर गद्दार वंगाल के इस तीव्र इस्लामीकरण की चर्चा नहीं होने देते हैं । अभी अभी बीजेपी के प्रदेश कार्यालय पर मुस्लिम जिहादियों ने सीधे सरे आम दिन में हमला करके कई कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी है और शेष गंभीर रूप से घायल कर दिए हैं । इसके पहले एक मास पहले कोलकाता के मौलाना ने बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या करने का फ़तवा जारी किया हुआ है । जब प्रदेश की राजधानी में इस्लामी आतंक की यह यह हालत तब शेष वंगाल का तो अनुमान लगाया जा सकता है संक्षेप में पूरे वंगाल में इस्लामी दहशत का राज कायम हो चुका है कोई भी गैर मुस्लिम अमता शासन के आतंक के खिलाफ मुँह नहीं खोल सकता है ।
आज की पोस्ट बहुत ही भारी मन से मुझे अपने राष्ट्रीय
कर्तव्य के वशीभूत लिखनी पड़ रही है ......

'" अमता बेगम' ने किया , कितना बड़ा कमाल !
'धनमोहन' की छाँव में , वंगाल किया कंगाल ।।
वंगाल किया कंगाल , अनेकों किये घोटाले ।
इसके अब खुल रहे , कारनामे सब काले ।।
कुचला जन प्रतिरोध , न छलकी इसकी ममता ।
क्रूर 'कुटिलता - मूर्ति ', बन गई बेगम अमता ।।"

"दिखता है वंगाल में , कठमुल्लों का राज ।
शरियत के अनुरूप ही, सरकारी सब काज।।
सरकारी सब काज , मस्जिदों के है 'आश्रित '।
जर जमीन सब छिने , हिन्दुजन हुये 'निराश्रित '।।
सेकुलर दण्ड विधान , यहाँ कठमुल्ला लिखता ।
लागू होता वही , यहाँ बेशक है दिखता ।।"

"आकर वंगला देश से , घुसपैठी 'दश लाख' ।
उन्हें बसाने के लिये , 'नियम धरे सब ताख' ।।
नियम धरे सब ताख , नागरिक गए उखाड़े ।
कुचल दिए सब जोकि , हिन्दुजन आये आड़े ।।
जहाँ जहाँ ये बसे ,'स्वदेशी चिन्ह मिटाये ।
अब तक 'पन्द्रह कोटि' , रहे 'बाहर से आये '।।"


विशेष ...
'अमता बेगम' .. ?
'धनमोहन' ......?
'कुटिलता - मूर्ति '...?
'सेकुलर' .... धर्मनिरपेक्ष अर्थात् इस्लाम सापेक्ष ।
'दश लाख' ...अमता राज मे वंगला देश और पाकिस्तान
से नेपाल के रास्ते लगभग 10 लाख मुस्लिम
घुसपैठियों को वंगाल में बसाया गया ।
'पन्द्रह कोटि '..... पन्द्रह करोड़ , भारत विभाजन के पश्चात्
कांग्रेस ,कम्युनिस्ट और अमता राज में लगभग
70 साल की अवधि में सेकुलर सरकारोँ के
संरक्षण शासन में 15 करोड़ मुस्लिम घुसपैठियों
को हिंदुओं को उजाड़ कर बसाया गया । अमता
राज में यह घुसपैठ बहुत बढ़ गई है ।

टिप्पणी

क्रमबद्ध करें

© C2016 - 2020 सर्वाधिकार सुरक्षित Website Security Test