हिन्दी English


"बोला है सरकार का , एक बार फिर काम ।"

" प्रजापति ( सपा सरकार के सर्वाधिक चर्चित मंत्री ) पर होगी दुष्कर्म की 'ऍफ़ आई आर ' दर्ज़ ।"  .......... सर्वोच्च न्यायालय का आदेश 17.022017
गत तीन वर्षों से निरन्तर ब्लेकमेल करते हुये अपने साथियो सहित रेप करने और 17 साल की नाबालिग लड़की से भी छेड़छाड़ का प्रथम दृष्टया आरोप संज्ञेय। तीन वर्षों तक DM से लेकर मुख्यमंत्री तक गिड़गिड़ाती रही किन्तु कार्यवाही तो दूर उसको लगातार नारकीय यातना दी गई और उसकी नाबालिक लड़की तो सुरक्षित इन नर पिशाचों से बच जाती । माँ के साथ ही पुत्री से भी बलात् यौन सम्बन्ध तो किसी इस्लामी राज्य में ही सम्भव हैं । यदि प्रारम्भ में ही उसकी गुहार अखिलेश सरकार द्वारा सुन ली गई होती ,तो निर्दोष नाबालिक लड़की तो सुरक्षित बच गई होती ।इसी एक घटना से "अखिलेश सरकार " का असली इस्लामी चेहरा सामने आ गया है ।क्योंकि किसी भी इस्लामी राज्य में ( पाकिस्तान में ) मर्द द्वारा किसी भी महिला से हुये बलात् कार की रिपोर्ट किसी भी थाने में नहीं लिखी जाती है।
उलटे उस महिला को ही कुलटा व्यभिचारिणी मानकर दण्डित किया जाता है ।

अखिलेश सरकार का निरन्तर दावा ......
"हमारा और हमारी सरकार ( प्रजापति सहित पूरे मंत्रिमंडल) का काम बोलता है ।" ........."मुख्यमंत्री अखिलेश यादव"

"अखिलेश सरकार का काम नहीं कारनामें बोलते हैं ।"
और ,
"उत्तर प्रदेश के थाने सपा के कार्यालय बन गये हैं । सपा के गुंडों की पूर्व अनुमति के बिना थानेदार कोई 'एफ आई आर ' दर्ज़
नहीं करते ।" ............ "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी "

उपर्युक्त टिप्पणियों के समन्वित प्रभाव में मेरी प्रतिक्रिया......

"बोला है सरकार का , एक बार फिर काम ।
मंत्री जी का 'रेप' में , हुआ उजागर नाम।।
हुआ उजागर नाम , 'प्रजापति' नया नहीं है ।
इनके भ्रष्टाचार , घोटाले अधिक कहीं हैं !!
'रेप ' 'लूट' 'धत् कर्म', बदलते आये चोला ।
' काम' सैकड़ों बार , पाँच वर्षों में बोला ।।"


विशेष .........
रेप ..... बलात्कार ।
प्रजापति ..... पूरा नाम' गायत्री प्रजापति ', अखिलेश की सरकार के सर्वाधिक अपने काले कारनामों के लिए निरन्तर चर्चित कमाऊ मन्त्री ,खनन मंत्री के रूप में लगभग 1 0 हजार करोड़ की अवैध कमाई की ,जिसका अधिकांश हिस्सा अखिलेश और अखिलेश के परिवार तिजोरी में गया । इसीलिये एक ईमानदार महिला डी एम ने प्रजापति की अवैध गतिविधियों और कमाई पर अंकुश लगाने का प्रयास किया तो मुख्यमंत्री का 'काम बोल पड़ा' और सम्बंधित महिला अधिकारी निलंबित कर दी गई ।
दूसरा आई ए एस अधिकारी उसकी जगह नियुक्त कर दिया गया और उस महिला अधिकारी को विभिन्न प्रकार से उत्पीड़ित किया गया। यहाँ यह विशेष रूप से उल्लेखनीय है कि ये सारे काम मुख्यमंत्री की कलम से ही बोले हैं ।

धत् कर्म ... सरकारी धन की नीचे से लेकर ऊपर तक लूट , 500 से अधिक दंगे ,जिनमे हिंदुओं को घेर कर सरकारी
संरक्षण में उजाड़ा गया ।कैराना ,कैथल आदि अनेक गांवों से हिंदुओं पलायन के लिए बाध्य किया गया । सैकड़ों हिन्दू लड़कियों का अपहरण करके उन्हें बलात् मुसलमान बनाया गया। सैकड़ों वैध ,अवैध बूचड़खाने सरकारी आदेश और संरक्षण में खोल दिये गए । जहाँ पिछले 5 सालों में गायों सहित सभी गोवंश के क़त्ल किये जाने की गति पूर्व सरकार से 4 गुना हो गई । सूची बहुत लम्बी है ।अन्यत्र चर्चा की जायेगी ।
पाँच वर्ष में अखिलेश सरकार ने प्रदेश का इतना तीव्र गति से इस्लामीकरण कर दिया है ।समस्त व्यवस्था पर जिहादी गुंडों का राज कायम हो गया है कि यह लगता ही नहीं कि हम भारत के किसी राज्य में रह रहे हैं ।अनेक लाभकारी योजनाएँ केवल और केवल मुसलमानों की आबादी की गति और तीव्र गति से बढ़ाने के लिये बनाई गई हैं । उनमे से मुस्लिम लड़कियों की हाई स्कुल पास करते ही सरकारी खर्चे पर शादी जिससे उनकी उच्च शिक्षा बाधित कर दी गयी ज्यादा पढ़ने से चार छः वर्ष पढ़ाई में निकल जाते थे और पढने लिखने के बाद वह बच्चे पैदा करने कहीं प्रतिरोध करती हैं ।

होना तो यह चाहिए था कि हाई स्कूल पास करने के बाद सभी लड़कियों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहन राशि के रूप में उस धनराशि को व्यय किया जाता। उलटे उनकी उच्च शिक्षा को स्थाई रूप से अवरुद्ध कर देने के लिये उनकी तुरन्त सरकारी कोष से शादी कर देना । यह राष्ट्र् समाज और मानवता विरुद्ध अपराध है ,जिसकी सभी राष्ट्रभक्त नागरिकों द्वारा निंदा की जानी चाहये किन्तु सपाई गुंडों ने मुस्लिम जिहादियों के साथ मिलकर ऐसी दहशत पैदा कर दी है कि Facebook पर भी अपनी प्रतिक्रिया देने से बचते रहते हैं उलटे सुविधा भोगी कायर हिन्दमुस्लिम भाईचारे का राग अलापना शुरू कर देते है ।

टिप्पणी

क्रमबद्ध करें

© C2016 - 2020 सर्वाधिकार सुरक्षित Website Security Test