हिन्दी English


गाड़ी ज्ञान...
.
आज हम चर्चा करेंगे डीजल और पेट्रोल कारों को लेकर फैली कुछ भ्रांतियों पर जो कि एक आम ड्राईवर के मन में रहती हैं...
.
मेरे अनुभव के हिसाब से पुराने ज़माने की गाड़ियों के बारे में ना सोचकर नई गाड़ियों के बारे में सोचना चाहिए.....उन ड्राइवर्स को जो मिलना था मिल चुका....मेरी ये गाड़ी श्रंखला नए ड्राइवर्स के मार्गदर्शन के लिए है....
.
सबसे पहले पुराने समय की दोनों गाड़ियों का मूल अंतर समझ लें.....डीजल पेट्रोल से कम ज्वलनशील होता है सो इसके इंजन में फाइरिंग के लिए कम्प्रेशन ज्यादा चाहिए होता है ताकि चेंबर का तापमान इतना हो जाये कि फायरिंग हो सके.....पेट्रोल कार में ये परेशानी नहीं है...फटाक से इंजन रवां होता है .....उसके बाद ले धकाधक गाड़ी 0 से 100 की स्पीड में कुछ ही सेकंड्स में.....डीजल इंजन में इस मामले में थोड़ा कॉम्प्रोमाइज करना पड़ता है....
.
खैर.....डीजल या पेट्रोल....आज के ज़माने की गाड़ियों में आप दोनों में से कोई भी ले लें कोई बहुत ख़ास फर्क नहीं पड़ता...पहले की डीजल गाड़ियों की समस्या थी कमजोर पिकअप जो कि अब नहीं रही...इसी तरह पहले की पेट्रोल कारों की समस्या थी कम माइलेज...वो भी अब नहीं रही......माइलेज के मामले में अगर पेट्रोल गाड़ी 19 है तो पिकअप के मामले में डीजल गाड़ी 19....पहले जैसा बड़ा अंतर अब नहीं रह गया....हाँ फिर भी ओवलऑल में मैं पेट्रोल कार की ही वकालत करूंगा...
.
एक और बड़ा अंतर था डीजल इंजन की आवाज का,वो भी काफी हद तक कम कर दिया गया है लेकिन आज भी स्मूदनेस और शांतिपूर्ण ड्राइविंग में पेट्रोल कार का कोई मुकाबला नहीं है.....आज की नई से नई डीजल गाड़ी भी चलाते समय किसी पुरानी पेट्रोल कार से ज्यादा आवाज करती ही है....अब माइलेज के फायदे के लिए इतना तो ड्राईवर को सहन करना ही होगा....
.
अब बात ये कि कौन सी लें...अगर आप अव्वल दर्जे के गाड़ीबाज़ हैं....कैसे भी हो आपको गाड़ी चलानी ही है तो डीजल लें.......अगर आप शौकीन ड्राईवर हैं,थोड़ा थोड़ा चलाकर गाड़ी का लम्बे समय तक आनंद लेना चाहते हैं,माइलेज के साथ थोड़ा सा कोम्प्रोमाईज़ कर सकते हैं तो पेट्रोल बढ़िया ऑप्शन है....हाँ ये बात दीगर है कि पेट्रोल कार ड्राइविंग का मजा ज्यादा देती हैं.....उनकी लाइफ भी डीजल कार से ज्यादा होती है....
.
अब थोड़ा हिसाब किताब.....डीजल कार पेट्रोल कार से महंगी होती हैं....कारण डीजल सस्ता और माइलेज भी ज्यादा....लेकिन मेंटेनेंस डीजल गाड़ी में ज्यादा निकलता है...अगर आप शौकीन तरीके से मजे लेकर गाड़ी चलाते हैं तो डीजल कार लेने का कोई फायदा नहीं....जितने पैसे आपने कार लेने में अधिक खर्च किये उसका इंटरेस्ट भी निकालेंगे तो भी आपका पैसा माइलेज में हुई बचत और मेंटेनेंस में हुए खर्चे में बैलेंस हो जाता है...और सबसे बड़ी बात पेट्रोल कार में ड्राईवर को ड्राइविंग की थकान कम होती है...
.
मैं आपको पेट्रोल कार लेने की सलाह दूंगा.....

टिप्पणी

क्रमबद्ध करें

© C2016 - 2020 सर्वाधिकार सुरक्षित Website Security Test